Home Blog Page 20

‘छोटी माता’ या चिकन पॉक्स का कारण, लक्षण, उपचार

‘छोटी माता’ या चिकन पॉक्स / Chicken Pox, यह ज्यादातर बच्चों में पाया जानेवाला एक आम संक्रामक रोग हैं। ऐसे तो यह रोग बच्चों में बिना उपचार अपने आप ठीक हो जाता है पर कुछ मामलों में बच्चे की रोग प्रतिकार शक्ति कमजोर होने पर निमोनिया भी हो सकता हैं। Chicken Pox का और एहतियात से जुडी अधिक जानकारी हम आप को बताते हैं –

एक बार किसी व्यक्ति को Chicken Pox होने पर व्यक्ति को इस रोग के लिए प्रतिरोधक शक्ति / Immunity निर्माण हो जाती हैं और यह रोग 99% मामलों में दोबारा नहीं होता हैं। इस बीमारी में शरीर में मसूर के दाने के समान फोड़े-फुंसी होती है इसीलिए आयुर्वेद में इसे लघु मसूरिका नाम दिया गया हैं।

चिकन पॉक्स / Chicken Pox – कारण, लक्षण और उपचार 
Chicken Pox कैसे होता हैं :- Chicken Pox यह एक वायरल संक्रामक रोग हैं जो Herpes Varicella-Zoster Virus से कारण होता हैं। Chicken Pox एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में हवा, थूक, छींकना, म्यूकस, फोड़े-फुंसी से निकले द्रव, कपडे, बिस्तर इत्यादि के संपर्क में आने से फैलता हैं। बच्चों में संक्रमण फैलाने का समय फुंसी / rash आने के 2 दिन पहले से शुरू होकर जब तक फोड़े-फुंसी पूरी तरह सुख नहीं जाते तब तक रहता हैं।

Chicken Pox के लक्षण क्या हैं ? 
Chicken Pox के वायरस के संक्रमण होने के 10 से 21 दिनों बाद बच्चों में इसके लक्षण दिखना शुरू होते हैं। Chicken Pox के लक्षण इस प्रकार हैं :
शरीर पर खुजली के साथ लाल दाग और फोड़े-फुंसी हो जाते हैं। शुरुआत में फुंसी छोटी होती है और फिर उसमे तरल पदार्थ जमा होकर फफोले तैयार हो जाते हैं।
मुंह के अंदर, सिर पर, आँखों के पास और जनेन्द्रिय के ऊपर भी छाले / फुंसी आ सकते हैं।
बुखार
थकान / कमजोरी
मांसपेशी में दर्द
सर्दी, जुखाम, नाक बहना
हल्की खांसी
संक्रमण फेफड़ों में फैलने पर खांसी, सांस लेने में तकलीफ और सिने में दर्द भी होता हैं।
Chicken Pox का उपचार कैसे किया जाता हैं:- ऐसे तो Chicken Pox के अधिकतर मामलों में कोई विशेष उपचार की आवश्यकता नहीं होती हैं। नवजात बच्चे, गर्भिणी महिला और कमजोर रोग प्रतिकार शक्ति वाले बच्चों में Chicken Pox के लक्षण पाए जानेपर तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

बुखार या बदनदर्द होने पर डॉक्टर की सलाह से पेरासिटामोल की दवा लेना चाहिए। अन्य कोई दर्दनाशक दवा का उपयोग न करे।
अगर खुजली ज्यादा है तो डॉक्टर आपको खुजली कम करने की दवा देते हैं।
अगर Chicken Pox के समय शरीर में कोई अन्य बैक्टीरियल संक्रमण हुआ है तो उसे दूर करने के लिए एंटीबायोटिक दवा दी जाती हैं।
अगर Chicken Pox से पीड़ित व्यक्ति की रोग प्रतिकार शक्ति बेहद कम है या रोगी गर्भिणी है तो डॉक्टर जरुरत पड़ने पर एंटी वायरल दवा देते है जिससे इस वायरस का प्रभाव कम होता है और रोग जल्दी काबू में आता हैं।
बच्चों में खुजली की समस्या अधिक होने पर उन्हें डॉक्टर की सलाह से दवा दे। बच्चों के नाख़ून बढे हुए है तो उन्हें काटे और साफ़ रखे। खुजली करते समय नाख़ून का मैल फोड़े-फुंसी में जाने से संक्रमण होकर फोड़े-फुंसी पकने का खतरा रहता हैं। छोटे बच्चों में हाथों पर हैंड सॉक्स पहना देना चाहिए।

खुजली से राहत देने के लिए उनके नहाने के पानी में हल्का बेकिंग सोडा डालें। बच्चों का कमरा ठंडा रखे और उन्हें टाइट गर्म कपड़ो की जगह ढीले सूती कपडे पहनाए।
खुजली कम करने के लिए त्वचा पर लैक्टो कैलामिन लोशन लगा सकते हैं।
फोड़े-फुंसी में कोई संक्रमण होकर पक जाने पर वहां लगाने के लिए डॉक्टर की सलाह से एंटीबायोटिक क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए।
नीम की पत्तियों को नहाने के पानी में डुबोकर उस पानी से नहलाने से भी लाभ होता हैं। निम के एंटी वायरल गुण के कारण संक्रमण को अधिक फैलने से रोकने में मदद होती हैं।
अगर बच्चों को गले में दर्द होता है तो गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करने से लाभ होता हैं।
बच्चों में Chicken Pox का प्रभाव कम करने के लिए आप उन्हें डॉक्टर की सलाह लेकर उचित मात्रा में गुडुची की गोली या गुडुची सत्व दूध में मिलाकर बच्चों को दे सकते हैं। इससे बच्चे की रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने में मदद होती हैं।
बच्चों के शरीर में पानी की कमी न हो इसके लिए उन्हें पानी, तरल पदार्थ अधिक प्रमाण में देना चाहिए।
बच्चों की पाचन शक्ति कमजोर होने के कारण उन्हें खाने में फल, दूध, खिचड़ी, दलिया जैसे हलके और पोषक आहार देना चाहिए। बच्चों तो चिप्स, पकोड़े, पिज़्ज़ा जैसे फास्टफूड बिलकुल नहीं देना चाहिए।

बच्चों को Chicken Pox होने पर पूरी तरह से ठीक होने तक घर के बाहर खेलने या स्कूल में नहीं भेजना चाहिए। इससे संक्रमण फैलने का खतरा रहता हैं।
घर में अगर कोई गर्भिणी महिला है जिसे पहले कभी Chicken Pox नहीं हुआ है तो उन्होंने Chicken Pox पीड़ित व्यक्ति से दूर रहना चाहिए।
Chicken Pox पीड़ित व्यक्ति के कपडे, बिस्तर, थाली, ग्लास इत्यादि गर्म पानी से धोकर साफ़ करने चाहिए।

Chicken Pox Vaccine के बारे में जानकारी:- Chicken Pox से बचने का यह एक कारगर उपाय हैं। इस वैक्सीन के दो dose लेना होता हैं। Chicken Pox वैक्सीन के दो dose लेने पर आपको इससे 98% तक सुरक्षा प्राप्त हो सकती हैं। Chicken Pox vaccine का dose इस प्रकार हैं :
13 वर्ष से कम आयु के बच्चों में पहला dose / टिका 12 से 15 महीने के आयु में दिया जाता है और दूसरा booster dose 4 से 6 वर्ष के आयु में दिया जाता हैं। दूसरा dose पहले भी दिया जा सकता है पर पहला dose देने के 3 महीने बाद ही दूसरा dose दिया जाता हैं।
13 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति जिन्हे पहले कभी Chicken Pox नहीं हुआ है और पहले कभी Chicken Pox vaccine नहीं दिया है ऐसे व्यक्तिओ में पहला वैक्सीन देने के 28 दिनों बाद दूसरा बूस्टर वैक्सीन दिया जाता हैं।
गर्भिणी महिलाओं को यह वैक्सीन नहीं दिया जाता हैं। प्रसव / Delivery के बाद ही यह वैक्सीन गर्भिणी महिलाओं में दिया जा सकता हैं। यह वैक्सीन महिलाओं में दिए जाने के 1 महीने बाद ही महिला ने गर्भधारण करना चाहिए।
Chicken Pox का वैक्सीन एड्स पीड़ित, कैंसर पीड़ित, जिनकी रोग प्रतिकार शक्ति बेहद कम है या जो लोग किसी वजह से स्टेरॉयड दवा ले रहे है उन्हें नहीं देना चाहिए।

Chicken Pox अगर बचपन में हो जाये तो ठीक है क्योंकि बाद में होने पर यह अधिक पीड़ादायक होता हैं। Chicken Pox होने पर अगर बच्चे को अधिक बुखार आता है या बच्चा ज्यादा कमजोर नजर आता है तो घरेलु नुस्खे आजमाने की जगह तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

अजमेर: सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 4 लडकियां और 3 लडके अरेस्ट

जयपुर। राजस्थान के अजमेर जिले के पुष्कर से पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है । पुष्कर पुलिस ने देर रात बूढ़ा पुष्कर बाईपास मार्ग पर दो लग्जरी कारों में सवार चार लड़कियों और तीन लड़कों को वेश्यावृति के आरोप में रंगे हाथ पकड़ा है। पुलिस के मुताबिक चारों युवतियों को होटलों में सप्लाई करने के लिए लाया गया था।

स्पेशल पुलिस टीम को पुष्कर में देह व्यापार के लिए कुछ युवक-युवतियों के आने की जानकारी मिली थी। इस पर आईपीएस मोनिका सैन, स्पेशल टीम के प्रभारी विजय सिंह एवं स्थानीय पुलिस सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची तो यहां दो लग्जरी कारें दिखाई दीं। बूढ़ा पुष्कर बाईपास मार्ग पर खड़ी इन दोनों लग्जरी कारों की तलाशी ली। इनमें चार लड़कियां तीन लड़कों के साथ संदिग्धावस्था में मिली।

गिरफ्तार लड़कियां में से एक दिल्ली, दो पश्चिम बंगाल और एक लड़की नागौर के परबतसर की है जबकि दो युवक पुष्कर के हैं। इनमें एक अधेड़ व्यक्ति है जो भी परबतसर का रहने वाला है।

पुष्कर निवासी पिंटू उर्फ महेंद्र नाथ, इमरान मोहम्मद, परबतसर निवासी राजेंद्र माली को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में सामने आ रहा है कि परबतसर की रहने वाली लड़की और वहीं का अधेड़ व्यक्ति दलाल की भूमिका में काम करते हैं।पुलिस ने सातों को गिरफ्तार कर दोनों कारों को जब्त कर लिया और जरुरी कार्यवाही शुरू कर दी है ।

लडकी चीखती रही, हैवान बने लडके उसे नोंचते रहे, वीडियो वायरल

पटना। इन दिन सोशल मीडिया में एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो इतना खौफनाक है कि देखते ही रौंगटे खडे हो जाएं। इसमें एक लडकी को कुछ लडके बुरी दबोचे हुए है। इन्हीं में एक लडका उसे बचाने की कोशिश करता भी नजर आता है। इस दिल दहला देने वाले वीडियो को सोशल मीडिया पर काफी शेयर किया गया।

यह वीडियो किस जगह या राज्य का है इस बारे में अधिकारिक रूप से कोई जानकारी सामने नहीं आई है। वीडियो में एक मोटरसाइकिल भी सडक किनारे पडी नजर आ रही है। सबगुरु न्यूज ने इसी बाइक के नंबरों के आधार पर जानकारी एकत्र की। आरटीओ रजिस्ट्रेशन कोड वेरिफिकेशन के अनुसार बाइक बिहार के जहानाबाद जिले की है।

शर्मसार कर देने वाले इस वीडियो में सलवार कमीज पहनी एक नाबालिग़ बच्ची से न केवल बुरी तरह छेड़छाड़ की जा रही है बल्कि उसे कपडे भी फाड दिए गए। वह बचने की गुहार कर रही है लेकिन लडकों का समूह उसके साथ ज्यादती कर रहा है। लाचार बेबस लडकी अपनी इज्जत लूटने से बचाने की हर संभव कोशिश करती नजर आ रही है।

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस भी हरकत में आई है और इस मामले में अब तक 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। वीडियो में दिखने वाले दो अन्य फरार बताए जा रहे हैं। फरार आरोपियों की पहचान भी पुलिस ने कर ली है। इस वीडियो की जांच के लिए स्पेशल टीम का गठन किया है। पुलिस ने पहली जांच रिपोर्ट के आधार पर पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

जानिए सेक्स न करने से होने वाले 5 हैरान करने वाले खतरनाक नुकसान

SABGURU NEWS : जानिए सेक्स न करने से होने वाले 5 हैरान करने वाले नुकसान के बारे में| कामसूत्र वाले देश भारत की स्थिति आज यह है कि लोग सेक्स का नाम सुनकर ही घबरा जाते हैं| समाज के एक बड़े तबके का मानना है कि सेक्स जैसे शब्द का उच्चारण सार्वजानिक रूप से नहीं किया जाना चाहिए| ऐसे में संभव है कि इसे लेकर जागरूकता का अभाव है| इसलिए हम आपको सेक्स न करने से होने वाले कुछ नुकसान बता रहे हैं-

→  सेक्स न करने से पीरियड्स में परेशानी

उचित समय पर संभोग करने से न सिर्फ तनाव बल्कि किसी भी तरह के दर्द का एहसास भी कम होता है| इससे पीरियड्स के दौरान होने वाले ऐंठन की समस्या भी दूर होती है| जब कोई महिला कामोत्तेजित होती है तो गर्भाशय में संकुचन के के कारण शरीर से निकलने वाले खून का बहाव तेज हो जाता है और इससे उन्हें पीरियड्स के समय ज्यादा दर्द नहीं होता है| लेकिन जब आप सेक्स करना बंद कर देंगी तो आपको ज्यादा दर्द महसूस होगा|

→ सेक्स न करने से होगा तनाव

जैसा कि आम तौर पर कहा जाता है कि सेक्स तनाव को ख़त्म करता है| इसके पीछे वैज्ञानिक कारण ये है कि संभोग के दौरान फील-गुड हार्मोन रिलीज होता है जिससे हमारे मन से तनाव निकल जाता है| इसलिए यदि आप सेक्स नहीं करते हैं तो ये हार्मोन रिलीज नहीं होगा और तानव को मैनेज करना मुश्किल हो सकता है|

→ रोस्टेट कैंसर

अगर आपने सेक्स करना बंद कर दिया है तो जान लें कि शरीर की प्रतिरक्षा क्षमता भी कमजोर हो जायेगी। अमेरिकन यूरोलॉजिकल एसोसियेशन के अनुसार जो बार-बार सेक्स करते हैं| उनमें प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना कम होती है सेक्स न करनेवालों की तुलना में|

डिप्रेशन नहीं होने पर जैसे पुरूष डिप्रेशन में चले जाते हैं उसी तरह महिलायें भी अवसादग्रस्त हो सकती हैं| आकाइव्स सेक्चुअल बिहेवियर के जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार मेलाटोनीन, सेरोटोनीन और ऑक्सिटोसीन पुरूषों के सीमेन या वीर्य में रहता है जो महिलाओं के मूड को बनाने में मदद करता है|

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़कियों के शरीर में होते हैं यह परिवर्तन

दोस्तों आजकल कई कपल्स शादी से पहले ही शारीरिक संबंध बना लेते हैं। शारीरिक संबंध स्त्री और पुरुष की शारीरिक आवश्यकता है। शारीरिक संबंध बनाने के बाद दोनों को आत्म संतुष्टि का एहसास होता है, परंतु महिलाओं को कभी मनोरंजन के लिए उपयोग नहीं लेना चाहिए। उन्हें हमेशा सम्मान देना चाहिए। आज हम बात कर रहे हैं पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़की के शरीर में क्या क्या परिवर्तन होते हैं।

पीरियड्स में बदलाव

जब लड़की पहली बार शारीरिक संबंध बनाती है तो उनके पीरियड का समय अनियमित हो जाता है। यह सामान्य सी बात है, परंतु यदि पीरियड आने में अधिक देरी हो तो यह प्रेगनेंसी भी हो सकती है।

मानसिक परिवर्तन

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने के कारण लड़कियों के दिमाग में सेक्स की प्रति उत्साह अधिक बढ़ जाता है। इसी कारण उनके दिमाग और भी ज्यादा क्रियाशील हो जाता है अर्थात उनके सोचने समझने की क्षमता अधिक हो जाती है।

शारीरिक परिवर्तन

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़कियों में अनेक प्रकार के शारीरिक परिवर्तन होने लगते हैं। सामान्य सी बात है, पहली बार संबंध बनाने से लड़कियों के अंगों में बढ़ोतरी होने लगती है और त्वचा में चमक के साथ साथ चेहरे पर भी निखार आता है।

जयपुर : बिड़ला मंदिर के सामने फ़िल्मी अंदाज में दर्दनाक सड़क हादसा

जयपुर। राजधानी जयपुर में बिड़ला मंदिर के सामने मंगलवार को भीषण सड़क हादसा हुआ। बेकाबू हुई एक तेज रफ्तार कार ने जेडीए चौराहे की लालबत्ती पर खडे वाहनों को पीछे टक्कर मार दी। शाम करीब 4 बजे हुए इस भीषण हादसे में बेकाबू कार ने बाईक पर सवार दो भाइयों को कुचल डाला। दोनों की बाद में मौत हो गई तथा पांच अन्य लोग भी घायल हो गए। घटना के बाद ट्रेफिक जाम हो गया तथा मौके पर अफरा तफरी मच गई।

पुलिस के अनुसार क्षेत्र के जेएलएन मार्ग पर बिड़ला मंदिर के सामने जेडीए चौराहे पर लालबत्ती के दौरान खडे वाहनों पीछे से आई बेकाबू कार ने टक्कर मार दी। घटना में मोटरसाइकिल पर सवार दो भाई पुनीत पराशर एवं विवेक पराशर उछलकर दूर गिर गए। जिन्हें उपचार के लिए तत्काल एसएमएस अस्पताल ले जाया गया जहां दोनों की मौत हो गई। दोनों मृतकों के पिता राजकुमार पाराशर जयपुर सेंट्रल जेल में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात हैं।

घटना के दौरान गांधी-सर्किल की तरफ से आ रही कार की टक्कर से अन्य वाहन भी दुर्घटनाग्रस्त हो गए तथा चार पांच लोग घायल हो गए जिन्हें एसएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल सरिता देवी, रतन लाल मीणा, मीठालाल और धनराज की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस ने कार चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। वहां राहगीर मोबाइल फोन से वीडियो बनाने लगे। जिन्हें पुलिस ने हटाया। काफी देर तक अफरा तफरी का माहौल रहा। माना जा रहा है कि सड़क पर अचानक भीख मांगने आने वालों की वजह से यह हादसा हुआ। जिसकी अब पुलिस चौराहे पर लगे सीसीटीवी फुटेज से पड़ताल करेगी।

इस दुर्घटना के दो दिन बाद फिर से उसी जगह हुई एक और दुर्घटना

बिरला मंदिर, JLN मार्ग, पर फिर से एक दुर्घटना हो गई है इससे पहले यानी कि 2 दिन पहले ही की दुर्घटना हुई थी जिसमें की एक कार चालक ने बड़ी तेज गति से कई वाहनों को तितर-बितर कर दिया था जिसमें की दो सगे भाइयों की जान भी जा चुकी है और आज ही सुबह इस दुर्घटना उसी जगह पर हुई है जिसमें की एक लग्जरी कार ने 1 दुपहिया वाहन को टक्कर मार दी यह वीडियो काफी ज्यादा वायरल हो रहा है। जिस में देखा जा सकता है कि दुपहिया वाहन चालक और लग्जरी कार दोनों ही तेज गति में निकल रहे हैं जिसमें कि दोनों की टक्कर हो जाती है और दुपहिया वाहन चालक हवा में उछलकर दूसरी सड़क के छोर पर जाता है हाला के बीच वीडियो की पुष्टि पूरी तरीके से नहीं की पाई है, यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।